Breaking News

आमला विधानसभा सीट में कांग्रेस और भाजपा में मुख्य मुकाबला, चुनावी सरगर्मी में कांग्रेस सुस्त भाजपा चुस्त

आमला विधानसभा सीट कांग्रेस और भाजपा में मुख्य मुकाबला चुनावी सरगर्मी में कांग्रेस सुस्त और भाजपा चुस्त

17 नवंबर 23 होने वाले विधानसभा चुनाव में उतरे प्रत्याशियों का चुनावी प्रचार शुरू हो गया है। बैतूल जिले की सुर्खियों में रही अनुसूचित जाति आरक्षित विधानसभा सीट आमला की बात करें तो इस सीट से 7 प्रत्याशी मैदान में हैं कांग्रेस भाजपा बहुजन मुक्ति पार्टी गोंडवाना गणतंत्र पार्टी तीन निर्दलीय प्रत्याशी है। मुकाबला कांग्रेस और भाजपा दोनों में ही है।इस बार चुनाव में कौन बाजी मारता है यह समय बताएगा लेकिन चुनावी पारा धीरे धीरे बढ़ाने लगा है, दिपावली के त्यौहार के समय ने चुनावी गर्मी में बाधक जरुर पहुंची है।प्रचार में भाजपा के प्रत्याशी डॉ योगेश पंडाग्रे आगे दिख रहे हैं। भाजपा के कार्यकर्ता गांव-गांव मोहल्ले मोहल्ले में चुनावी बैठके लेकर प्रचार की जिम्मेदारी दी जा रही है, मुख्य जगहों में कार्यालय खुलने शुरू हो गये है। कांग्रेस का चुनाव प्रचार सुस्त दिख रहा कार्यकर्ताओ में जिस तरह का उत्साह दिखना चाहिए दिख नहीं रहा है लेकिन जनसंपर्क जरुर कर रहे है ऐसा लग रहा है कि चुनाव नही लड़ रही बल्कि चुनावी औपचारिकता हो रही है भाजपा की ढकोसले बाजी बेसुमार घोषणाएं,महंगाई और रोजी-रोटी से परेशान जनता परिवर्तन चाहती है लेकिन प्रत्याशी में स्वयं की चुनाव लड़ने की क्षमता दमदारी दिख नहीं रही हैं, पार्टी के भरोसे है। कांग्रेस सपना देख रही है कि मुस्लिम वोट एक तरफा उनको मिल जायेगा, दलित बहुजन समाज का कोई विकल्प खड़े नहीं होने से वह भी वोट उन्हें ही मिल जायेगा। सत्य यह है कि कांग्रेस प्रत्याशी आम मतदाताओं के मन में बैठ नही पा रहे है,थोपे हुए प्रत्याशी लग रहे हैं।

Check Also

*जरूरतमंदों को मिलेगा 5 रूपये में भोजन, विधायक ने बांटे भूमिहीनों को पट्टे, नपा अध्यक्ष, उपाध्यक्ष ने किया नवीन दीनदयाल रसोई का शुभारंभ*

🔊 इस खबर को सुने Kaliram *जरूरतमंदों को मिलेगा 5 रूपये में भोजन, विधायक ने …