Breaking News

स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने पर दलित सरपंच की पीटाई, मुख्य सचिव डीजीपी को को आयोग का नोटिस

*मध्य प्रदेश के छतरपुर में स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम में दलित सरपंच को पीटा*

स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने पर दलित सरपंच की पिटाई, मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को अजा आयोग का नोटिस।

छतरपुर – मध्य प्रदेश के छतरपुर शहर के ओरछा रोड थाने के अंतर्गत ग्राम पंचायत धामची में स्वतंत्रता दिवस के आयोजन के दौरान ग्राम पंचायत के सचिव ने अनुसूचित जाति (दलित) सरपंच व उसके स्वजन की पिटाई कर दी। इस मामले पर संज्ञान लेकर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला ने प्रदेश के मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को नोटिस जारी करके तुरंत एक्शन टेकन रिपोर्ट पेश करने को कहा है।धामची के सरपंच अन्नू बसोर ने 15 अगस्त को गांव में ध्वजारोहण कार्यक्रम का आयोजन किया। ग्राम पंचायत के सचिव सुनील तिवारी को मुख्य अतिथि के रूप में ध्वजारोहण करना था। पीड़ि‍त सरपंच अन्नू के अनुसार सुनील तिवारी आयोजन में समय पर नहीं पहुंचे। कार्यक्रम में मौजूद गणमान्य लोगों और ग्रामीणों के आग्रह पर उनका और अधिक इंतजार करने के बजाय मैंने ध्वजारोहण कर दिया। शिकायत के मुताबिक सुनील तिवारी को यह बात नागवार गुजरी और तैश में आकर उन्होंने सार्वजनिक स्थल पर चल रहे कार्यक्रम में अन्नू बसोर, उसकी पत्नी के लिए जातिसूचक शब्दों का प्रयोग करके दोनों के साथ मारपीट की।

इस घटना के बाद धामची गांव में तनाव पैदा हो गया। भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। घटना की शिकायत दर्ज कराने के लिए पीड़‍ित को साथ लेकर पूर्व विधायक आरडी प्रजापति ओरछा रोड थाने पहुंचे थे। थाना प्रभारी आनंद सिंह परिहार ने बताया कि सरंपच की शिकायत पर सुनील तिवारी के खिलाफ मारपीट, धमकाने और एससी-एसटी एक्ट के तहत प्रकरण कायम करके जांच शुरू कर दी गई है।

 

Check Also

1111 किलोग्राम का निर्मित इस ऐतिहासिक पीतल का सिक्का जिसके एक तरफ तथागत बुद्ध और दूसरी तरफ संविधान निर्माता डा. अम्बेडकर का चित्र है

🔊 इस खबर को सुने Kaliram 1111 किलोग्राम का निर्मित इस ऐतिहासिक पीतल का सिक्का …